बुआ को चोदा। बुआ की चुदाई । Bua Ki Chudai । Sex With Aunty (Bua)

                      बुआ को चोदा

Bua ki chudai




मेरा नाम साहिल है। मैं 21  साल का हूँ। मैं बीएससी के तृतीय वर्ष में पढता हूँ । मैं गुजरात के एक छोटे गाँव का रहने वाला हूँ। ये मेरी सच्ची कहानी है, जो मैं आपको बता रहा हूँ , सबसे पहले मैं आपको अपने परिवार के बारे बताता हूँ। मेरे परिवार मैं और मेरे माता पिता ही है, और बगल में ही मेरे पापा के चचेरे भाई रहते हैं और उनके घर उनकी एक तलाक शुदा बहन यानि की मेरी चचेरी बुआ रहती है ये घटना मेरी चचेरी बुआ और मेरे बीच की है। अब मैं अपने बुआ के बारे में आपको बताता हूँ। उनका तलाक हुए बहुत साल हो चुके हैं। अब उनकी दूसरी शादी हो चुकी है, इसीलिए मुझे अब हिलाना ही पड़ता है। 
मेरे बुआ की उम्र लगभग 30 साल होगी। उनका रंग साँवला है, दिखने में कुछ ख़ास नही है, लेकिन उनका शरीर बहुत ही गदराया हुआ है। 
ये बात लगभग एक साल की है। मेरी माँ और पापा दोनों शादी में दूसरे गाव गए थे। हमारे पास दो बैल और एक गाय है इसीलिए उनके चारा पानी लिए मैं घर पर ही रुका। माँ ने मेरी चचेरी बुआ को मेरा खयाल रखने को कहा और चले गए। 
अब घर पर मई अकेला ही था। शाम को बुआ हमारे घर आई। उन्होंने मेरे लिए खाना बनाया और करीब नौ बजे की आस पाद हमने खाना खाया। उसके बाद हम टीवी देखने लगे। बुआ टीवी सीरियल देख रही थी लेकिन मुझे सीरियल पसंद नही है इसीलिए मैं अपने कमरे में गया और लैपटॉप पर पोर्न फ़िल्म देखने देखने लगा। मैं पोर्न देखने में बहुत गुम हो चुका था तभी पीछे से बुआ आई और चुप चाप खड़े रहकर पोर्न देखने लगी, मुझे तो पता ही नही चला। और अचानक से बुआ बोली
बुआ: भारत यह तुम क्या देख रहे हो। यह आवाज सुनकर मैं बहुत ही घबरा गया मैं क्या कहूँ  मेरे कुछ समझ में ही नहीं आ रहा था। 
मैं: कक कुछ नही बुआ जी ( मैंने खिड़की झट से बंद कर दिया)
बुआ: तुम ऐसे गन्दी वीडियोज देखते हो मैं तुम्हारे पापा को बताती हूँ। 
यह बात सुनकर मैं बहुत ही डर गया। 
मैं: प्लीज बुआ जी पापा को मत बताना आगे से मैं कभी भी नहीं देखूंगा, आप जो बोलेंगी वही करूँगा प्लीज
मैंने बहुत रिक्वेस्ट करने पर बुआ मान गई लेकिन उन्होंने मेरे सामने एक शर्त रखी वह यह की
बुआ: तुम्हे मुझे खुश करना होगा। 
मैं: बुआ जी मैं आपके लिए कुछ भी करूँगा। 
बुआ : तुम्हे मुझे चोद कर मुझे तृप्त करना होगा। 
(ये बात सुनकर मैं तो बहुत ही चकित हो गया)तभी बुआ बोली। 
बुआ: जादा सोच मत वरना तुम्हारे पापा को बता दूंगी। 
मैं: ओके बुआ जी लेकिन मैंने इससे पहले कभी भी नहीं किया है। 
बुआ: तो क्या हुआ मैं तुम्हे सब कुछ सीखा देती हूँ। 
तभी बुआ ने मेरे कपडे उतारना शुरू किये। मेरा शर्ट पैंट और मेरी अंडरवियर भी बुआ उतार फेकी। उनपर तो चुड़ैल हावी हो चुकी थी। वह मुझको जोर जोर से चूमने लगी, उन्होंने अपनी बाहों में मुझे कस के पकड़ लिया और अपने नाख़ून मेरे पीठ पर दबाने लगी। नाखून पीठ पर चुभने की वजह से मुझे दर्द हुआ इसीलिए मैं चिल्ला उठा। तभी बुआ ने मेरे ओठ पर अपने ओठ रखे और मेरे ओठों को चूसने लगी। 
अब मैं भी बुआ का साथ देने लगा। 
बुआ: साहिल अब जल्दी से मेरे मम्मे को जोर जोर दबाओ। 
मैं: ओके बुआ जी। 
और जोर जोर से मैं बुआ के मम्में को रगड़ने लगा। करीब 3-4 मिनट तक मैंने बुआ के मम्मे दबाये। फिर बुआ बोली
बुआ: अब जल्दी से अपना लंड मेरे चूत में डाल। 
मैंने बुआ की चूत को देखा उनकी चूत पर बहुत सारे बाल थे। मैंने अपने लंड बुआ की चूत पर सेट किया और एक धक्का मारा लेकिन मेरा लंड नाभि की तरफ फिसल पड़ा। मेरी यह पहली बार होने से मुझे सम्भोग करने में थोड़ी दिक्कत आ रही थी। तभी बुआ बोली कुत्ते तुझे तो चोदना भी नही आता, और उठकर उसने मुझे जोर का धक्का दिया। मैं बेड पर गिर पड़ा। और बुआ मेरे ऊपर आ गई। बुआ ने मेरा 7 इंच का लंड हाथ में ले कर चूत में सेट किया और धिरे धीरे मेरे लंड पर बैठने लगी। मेरा लंड बुआ की चूत में आराम से गया तभी मुझे ऐसा लगा की जैसे में हवा में उड़ रहा हूँ। 
अब बुआ मेरे लण्ड पर जोर जोर से कूदने लगी। यह मेरा पहली बार का सम्भोग था इसीलिए सिर्फ 5 मिनट में ही मैं झड़ गया। और मेरा लण्ड सिकुड़ने लगा। लेकिन अभी भी झड़ी नही थी उनकी चूत में बहूत आग लगी थी। 
बुआ: अरे साहिल कोई बात नहीं तुम्हारी यह पहली बार थी इसलिए तुम जल्दी झड़ गए मुझे यकीन है की अगले राउण्ड में तुम मेरी प्यास बुझा दोगे। 
मैं: मैं आपकी प्यास बुझाने की पूरी कोशिश करूँगा और हम नंगे बेड पर पड़े रहे। करीब 25 मिनट के बाद बुआ ने मेरे लंड पर फेरा और मेरे लण्ड पर थूक लगा के मालिश करने लगी।  कुछ ही पल में मेरा लण्ड फिर से खड़ा हुआ
बुआ: अब आएगा असली मजा डाल दे इसे मेरी गर्म भट्टी में। 
मैं: अभी डालता हूँ बुआ जी। 
बुआ: आज मुझे बुआ मत कहना। 
मैं: तो क्या कहूँ। 
बुआ: मुझे डार्लिंग बोला करो मेरे राजा। 
मैं: ओके डार्लिंग। 
अब अपना काम शुरू करो। 
बुआ: कर दो मेरे राजा। 
बुआ ने मेरी कमर को अपनी दोनों टांगो से मुझे जकड़ लिया और मेरा लण्ड हाथ में लिए चूत पर सेट किया। मैंने एक जोर का झटका दिया और पूरा लण्ड बुआ की चूत में गया। 
अब मेरा लण्ड बुआ की चूत को बजा रहा था और मैं उनके होठो को चूस कर उनकी चुचियाँ रगड़ रहा था। 
बुआ मस्ती में आ कर ऊऊऊउज्जम्मम्मह्ह्ह्ह् आआआआआआ अअ आआआआअ ह्हह्हह्हह्हह्ह कर रही थी। 
बुआ: और जोर से चोदो मुझे मेरे राजा मैं बहुत दिन से प्यासी थी। 
मैं: आज तो मैं आपको स्वर्ग का सुख दूंगा। 

और मैं जोर से धक्के देने लगा। मेरे धक्के से उनके मम्मे हिल रहे थे। हम दोनों को भी बहुत मजा आ रहा था। करीब 10 मिनट के बाद बुआ ने अपने नाख़ून मेरे पीठ पर जोर से गाड़ दिए और अपने पैर में मेरी कमर जोर से दबाई और बुआ की चूत से रस टपक पड़ा। और इसके बाद मैंने अपने धक्को की गति और बढ़ा दी और कुछ ही पल में मैंने भी बुआ की चूत में अपना माल गिरा दिया। 
बुआ के चेहरे पर बहुत ख़ुशी दिखाई दे रही थी। 
बुआ: आज तुमने मुझे खुश कर दिया राजा आज से तुम मुझे जब चाहे चोद सकते हो मैं सिर्फ तुम्हारी हूँ। उस रात मैंने बुआ को 8 बार चोदा। और उसके बाद भी मैं अपनी बुआ को सात -आठ बार चोद चूका हूँ। 

                      कहानी पसंद आयी तो हमें कमेंट करके जरूर बताये 👇👇👇👇

Post a Comment (0)
Previous Post Next Post